कृषि कानूनों पर उत्तर प्रदेश, हरियाणा के नेताओं से साथ नड्डा की बैठक, अमित शाह भी रहे मौजूद

naddaकिसानों की मांग कृषि कानूनों को रद्द करने का है। हालांकि, सरकार किसी भी कीमत पर इसके लिए तैयार नहीं है। इन सबके बीच किसान आंदोलन को लेकर भाजपा भी सक्रिय हो गई है। इस मसले में पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा ने मंगलवार को एक हाई लेवल की बैठक की

केंद्र द्वारा लाए गए कृषि कानूनों के खिलाफ किसानों का आंदोलन लगातार जारी है। दिल्ली के अलग-अलग बॉर्डर पर पंजाबहरियाणा और पश्चिमी उत्तर प्रदेश के कुछ किसान लगभग 80 दिनों से प्रदर्शन कर रहे हैं। किसानों की मांग कृषि कानूनों को रद्द करने का है। हालांकि, सरकार किसी भी कीमत पर इसके लिए तैयार नहीं है। इन सबके बीच किसान आंदोलन को लेकर भाजपा भी सक्रिय हो गई है। इस मसले में पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा ने मंगलवार को एक हाई लेवल की बैठक की।

जेपी नड्डा की इस बैठक में उत्तर प्रदेश, हरियाणा और पंजाब के कुछ किसान नेता भी शामिल थे जिन्होंने कृषि कानूनों का समर्थन किया है। साथ ही साथ इस बैठक में केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह और कृषि मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर भी मौजूद रहे। यह बैठक भाजपा मुख्यालय में हुई। बैठक में पश्चिमी उत्तर प्रदेश के सांसद संजीव बालियान, सत्यपाल सिंह भी शामिल हुए। इसके अलावा हरियाणा और राजस्थान के भी सांसद इस बैठक में शामिल हो रहे हैं। आपको बता दें कि कृषि कानूनों को लेकर सरकार और किसानों के बीच लगभग 11 दौर की बैठक खत्म हो चुकी है। लेकिन अब तक कोई भी निष्कर्ष नहीं निकल सका है।